आसान नहीं है पुरुष के प्रेम को समझना
वो तुम्हें बहुत चाहेगा
मगर बोलेगा नहीं
एक पुरुष के प्रेम को समझने के लिए
तुम्हें सुननी होगी
उसके हृदय की गहराइयों से निकली आवाज
जो अकथ होगी
मगर झलकेगी सदैव
उसके हाव-भाव में

उसके अभिव्यक्त प्रेम को समझने के लिए
तुम्हें पर्यवेक्षण करना होगा उसकी क्रियाओ का
जिनमे तुम्हारी बहुत परवाह झलकती है
कभी वो तुम्हें हाथ पकड़ कर
बीच रोड से किनारे पर करेगा
तो कभी तुम्हारे बाहर जाने पर
तुम्हें ध्यान रखने को कहेगा
कभी तुम्हारी कुशलता पर गर्व करेगा
तो कभी तुम्हारे विचलित होने पर
तुम्हें सहजता से समझाएगा
मगर कहेगा नहीं
कि उसे तुमसे प्रेम है

उसके अभिव्यक्त प्रेम को समझने के लिए
तुम्हें देखना होगा
उसकी आँखों की मासूमियत को
जो चुपके से तुम्हें निहारती है
कभी तुम्हारे श्रृंगार को सरहाएगा
तो कभी तुम्हारी सादगी पर लूट जाएगा
कभी तुम्हारी लटो को हाथो से संवारेगा
तो कभी तुम्हारे बिखरे केशो में उलझ जाएगा
मगर कहेगा नहीं
कि उसे तुमसे प्रेम है

उसके अभिव्यक्त प्रेम को समझने के लिए
तुम्हें धैर्य से भांपना होगा
उसके अनूठे व्यवहार को
जो तुम्हारी शरारतों पर बदलता है
कभी तुम्हारी नादानगी पर मुस्कुराएगा
तो कभी तुम्हारी कठोरता पर क्रोध दर्शाएगा
कभी तुम्हें प्रेम से पुकारेगा
तो कभी मनमानी करने पर जोरो से डाँटेगा
मगर कहेगा नहीं
कि उसे तुमसे प्रेम है

उसके अभिव्यक्त प्रेम को समझने के लिए
तुम्हें महसुस करना होगा
उसमे सहसा नियमित परिवर्तन को
जो सबके लिए बेपरवाह है
लेकिन तुम्हारे लिए ज़िम्मेदार बन जाएगा
बहुत कुछ पढ़ना होगा
तुम्हें उसके चेहरे पर
जो तुम्हें हमेशा शून्यभाव नजर आएगा
तभी कहती हूँ,
“आसान नहीं है पुरुष के प्रेम को समझना”

8 Comments

  1. Reader December 2, 2023 at 9:50 pm - Reply

    True unsaid feelings….👌👌😍

  2. Anjali Tripathi December 11, 2023 at 12:39 am - Reply

    बहुत खूबसूरत कविता है! यह साफ़ करती है कि पुरुष का प्रेम कभी-कभी अल्फाज़ों में नहीं कहा जाता है, बल्कि उसके कार्यों और भावनाओं में है। समझने के लिए धैर्य, पर्यवेक्षण, और महसूस करने की आवश्यकता है। मेरे विचार से आप सही कह रही हैंI

  3. RANJEETA NATH GHAI December 11, 2023 at 3:11 pm - Reply

    My husband is not the vocal type who keeps professing his love for me. initially, I used to feel bad, but then I realised that even though he doesn’t say it, he shows it in little ways, like grabbing my hand when I am crossing the road, drying out the clothes from the washing machine, getting my kids ready for school and coming home early from office to receive them as my timings were late.

  4. Sejuti Majumdar December 11, 2023 at 5:05 pm - Reply

    Men are not expressive because patriachy teaches them that expression is weak..Crying is weak.but u cn understand how much they care through their actions.

  5. Humaira December 12, 2023 at 1:34 pm - Reply

    Husband is a companion who will hold your hand over stormy days. They inspire, protect, motivate and help you overcome ups and downs throughout the journey of life. It’s a person who always makes you smile and feel happy, and above all, when you’re with them, you always feel really safe and peaceful.

  6. Akshi Sharma December 12, 2023 at 1:42 pm - Reply

    “Your eloquent portrayal of understanding a man’s love is truly profound. The nuanced observations and emotional depth you explore resonate deeply, offering valuable insights into the complexities of love.”

  7. Krishna Sreekumar December 12, 2023 at 2:17 pm - Reply

    Wow. You have a good talent is poem writing.. 👏👏May you become a well-known poet in this world ❤❤thankyou

  8. Kriti December 12, 2023 at 4:24 pm - Reply

    This is truly insightful do well penned
    It’s true there are sometimes no grand gestures but little things which show their love

Leave A Comment